उत्तराखंड-यूपी बार्डर पर कोरोना जांच में मिल रहे हैं पॉजिटिव;संक्रमितों की संख्या में इजाफा

 

  

उत्तराखंड-यूपी बॉर्डर पर आशारोड़ी चेक पोस्ट पर कोरोना जांच में औसतन रोजाना 30 से 40 लोगों में कोरोना पुष्टि हो रही है। इनमें से 70 फीसदी लोग देहरादून के ही रहने वाले हैं, जो बाहरी राज्यों से लौट रहे हैं। कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच आशारोड़ी चेक पोस्ट के समीप राज्य कर कार्यालय परिसर में कोरोना जांच की जा रही है। निजी लैब स्टार इंडिया इमेजिंग कंपनी को जांच की जिम्मेदारी सौंपी गई है। दो टीमें लगातार निजी वाहनों और सरकारी बसों से आने वाले यात्रियों की जांच हो रही है।

आंकड़ों के मुताबिक रोजाना करीब 13 सौ लोगों की कोरोना जांच हो रही है। मैनजर एम हसन ने बताया कि 28 अप्रैल को 1320 लोगों की एंटीजन जांच में 34 लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई है। इनमें से 22 लोग दून के विभिन्न क्षेत्रों के रहने वाले थे। 27अप्रैल को 1300 यात्रियों की जांच में 34 लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई। बताया कि पॉजिटिव आने वाले लोगों में सर्वाधिक लोग देहरादून के रहने वाले हैं। 

चिंता की बात है कि उत्तराखंड में कोरोना का ग्राफ लगातार बढ़ता जा रहा है। प्रदेशभर में गुरुवार को कोरोना का रिकॉर्ड आंकड़ा 6251 पर पहुंच गया है। संक्रमित मरीज सामने आए। 85 संक्रमित लोगों की मौत भी हुई। संक्रमण दर तेजी से पहुंचते हुए 4.66 प्रतिशत पर पहुंच गई। रिकवरी दर का आंकड़ा भी तेजी से कम होते हुए 68.82 प्रतिशत पर पहुंच गया है।

हेल्थ विभाग के बुलेटिन के अनुसार 198 केस अल्मोड़ा, 107 बागेश्वर, 125 चमोली, 157 चंपावत, 2207 देहरादून, 1163 हरिद्वार, 673 नैनीताल, 253 पौड़ी, 33 पिथौरागढ़, 150 रुद्रप्रयाग, 163 टिहरी, 827 यूएसगनर, 195 केस उत्तरकाशी में पाए गए। कुल कंटेनमेंट जोन की संख्या 219 पहुंच गई है। कुल कोरोना संक्रमित का आंकड़ा 174867 पहुंच गया है। जबकि 120350 मरीज ठीक भी हो गए। 39852 सैंपल जांच को भेजे गए। अभी भी 31386 मरीजों के सैंपल की रिपोर्ट का इंतजार है। कुल मौत का आंकड़ा 2502 पहुंच गया है।