उत्तराखंड में 24 घंटे में झुलसा 165 हेक्टेयर वन क्षेत्र, सोमवार को दर्ज की गई 85 घटनाएं

 


  देहरादून /  उत्तराखंड में विकराल हो रही जंगल की आग चुनौती बनती जा रही है। बीते 24 घंटे में आग से 165 हेक्टेयर वन क्षेत्र झुलस गया। इस दौरान 85 घटनाएं दर्ज की गईं। इनमें सर्वाधिक 74 गढ़वाल मंडल, नौ कुमाऊं और दो मामले संरक्षित वन क्षेत्र में सामने आए। इस बीच अक्टूबर से अब तक प्रदेश में 1538.28 हेक्टेयर वन क्षेत्र क्षतिग्रस्त हो चुका है। बस्तियों के पास सुलग रहे जंगल मवेशियों की जिंदगी पर भारी पड़ रहे हैं। जंगलों के पास बनी गोशालाएं लपटों की चपेट में आ रही हैं। गढ़वाल से लेकर कुमाऊं तक दहक रहे वनों के लिए मौसम से उम्मीद बंध रही है। मौसम विभाग के अनुसार मंगलवार से प्रदेश में पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने की संभावना है। इस दौरान पर्वतीय जिलों में बारिश हो सकती है। इस बीच पारा बढ़ने के साथ ही लपटें भी तेज हो रही हैं। वन विभाग के अनुसार अप्रैल के इन पांच दिनों में ही आग की 261 घटनाएं दर्ज की गईं और इससे 413 हेक्टेयर वन क्षेत्र प्रभावित हुआ है।


Sources:Agency News