तीरथ ने नौकरशाही में किया बड़ा फेरबदल, 30 अधिकारियों के पदभार बदले

 


 देहरादून /  मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत सरकार ने सचिवालय में पहला बड़ा फेरबदल किया है। सरकार ने सचिवालय में तैनात 24 आइएएस, चार पीसीएस और सचिवालय सेवा के दो अधिकारियों समेत कुल 30 अधिकारियों के पदभार बदले हैं। प्रदेश सरकार में नेतृत्व परिवर्तन के साथ ही अधिकारियों के पदभार में बदलाव की चर्चा थी। मुख्यमंत्री के कोरोना संक्रमित होने के कारण यह प्रक्रिया कुछ समय के लिए टल गई थी। अब मुख्यमंत्री की आइसोलेशन अवधि समाप्त होते ही तबादलों को अंजाम दे दिया गया है। शासन की ओर से जारी सूची के अनुसार अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी से सैनिक कल्याण हटाकर आयुक्त समाज कल्याण का दायित्व दिया गया है। 

प्रमुख सचिव आरके सुधांशु से खनन हटाकर ग्रामीण निर्माण एवं ग्रामीण अभियंत्रण सेवा का जिम्मा दिया गया है। प्रमुख सचिव एलएल फैनई को प्रमुख सचिव सैनिक कल्याण का पदभार सौंपा गया है। सचिव आर मीनाक्षी सुंदरम से महानिदेशक विद्यालयी शिक्षा का पदभार हटाकर खनन दिया गया है। शैलेश बगोली से सचिव परिवहन का पदभार वापस लिया गया है। सचिव डी सेंथिल पांडियन को सचिव कौशल विकास एवं सेवा योजन की जिम्मेदारी दी गई है। सचिव नितेश कुमार झा से सिंचाई तथा लघु सिंचाई का जिम्मा वापस लिया गया है। सचिव डा. पंकज कुमार पांडेय को महानिदेशक चिकित्सा शिक्षा की जिम्मेदारी सौंपी गई है। सचिव डा. रंजीत कुमार सिन्हा से कौशल विकास एवं सेवायोजन वापस लेकर परिवहन की जिम्मेदारी दी गई है। सचिव एसए मुरुगेशन से आयुक्त उद्योग और प्रबंध निदेशक सिडकुल का पदभार वापस लेकर सिंचाई व लघु सिंचाई का दायित्व दिया गया है। प्रभारी सचिव बृजेश कुमार संत से ग्रामीण अभियंत्रण की जिम्मेदारी वापस लेकर निदेशक खनन का दायित्व सौंपा गया है। प्रभारी सचिव चंद्रेश कुमार यादव को आयुक्त एवं सचिव राजस्व परिषद का जिम्मा दिया गया है। प्रभारी सचिव डा. वी षणमुगम से सामान्य प्रशासन वापस लेकर नियोजन तथा निदेशक आडिट की जिम्मेदारी सौंपी गई है। प्रभारी सचिव विनय शंकर पांडेय को महानिदेशक विद्यालयी शिक्षा का जिम्मा दिया गया है। प्रभारी सचिव सुरेंद्र नारायण पांडेय से ऊर्जा व निदेशक उरेड़ा का जिम्मा वापस लेकर आवास, आयुक्त आवास तथा अपर मुख्य प्रशासक उत्तराखंड आवास एवं नगर विकास प्राधिकरण का दायित्व सौंपा गया है।प्रभारी सचिव विनोद कुमार सुमन से आयुक्त आवास की जिम्मेदारी वापस ली गई है। अपर सचिव सविन बंसल से अपर सचिव चिकित्सा, आयुक्त स्वास्थ्य तथा मिशन निदेशक एनएचएम का पदभार वापस लेकर उद्योग, प्रबंध निदेशक सिडकुल, एवं आयुक्त उद्योग सौंपा गया है। अपर सचिव रणवीर सिंह से सचिव परिवहन एवं प्रबंध निदेशक परिवहन निगम का दायित्व वापस लिया गया है। अपर सचिव इकबाल अहमद से निदेशक आडिट का पद हटाया गया है।अपर सचिव सोनिका से पर्यटन, धर्मस्व एवं अपर मुख्य कार्यकारी अधिकारी पर्यटन विकास परिषद का दायित्व वापस लेते हुए मिशन निदेशक एनएचएम तथा आयुक्त स्वास्थ्य का जिम्मा दिया गया है। अपर सचिव आशीष कुमार चौहान को प्रबंध निदेशक उत्तराखंड परिवहन निगम की जिम्मेदारी दी गई है। अपर सचिव वंदना सिंह को निबंधक सहकारिता का अतिरिक्त पदभार दिया गया है। पीसीएस मेहरबान सिंह बिष्ट से अपर सचिव खनन तथा निदेशक खनन का पदभार वापस लेकर सिंचाई तथा लघु सिंचाई का जिम्मा दिया गया है।पीसीएस उदयराज सिंह से अपर सचिव लघु सिंचाई हटाया गया है। पीसीएस झरना कमठान से सचिव उत्तराखंड बाल अधिकार संरक्षण आयोग का जिम्मा वापस लिया गया है। सचिवालय सेवा से अपर सचिव प्रदीप सिंह रावत व मदन मोहन सेमवाल से अपर सचिव मुख्यमंत्री का पद वापस लिया गया है।


Sources:JNN