सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

देहरादून: फर्जी क्राइम ब्रांच का अधिकारी और पत्रकार बता स्पा सेंटर में घुस कर बनाया वीडियो, वायरल करने की धमकी देकर मांगे डेढ़ लाख

देहरादून /  उत्तराखण्ड की राजधानी देहरादून में आये दिन कोई न कोई नई वारदात सामने आती है इनमें फर्जीवाडा, ब्लैकमेंलिंग के मामलों में तेजी के साथ इजाफा हो रहा है।  ऐसा ही एक मामला प्रकाश में आया है जहां खुद को साइबर ब्रांच का अधिकारी और पत्रकार बताकर दो युवक जबरन एक स्पा सेंटर में घुस गए। इसके बाद उन्होंने सेंटर का वीडियो बनाया और अब वीडियो को वायरल करने की धमकी देकर संचालिका से डेढ़ लाख रुपये की मांग कर रहे हैं। स्पा सेंटर की संचालिका के इस आरोप पर वसंत विहार थाना पुलिस ने दोनों आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। उनकी तलाश की जा रही है। वसंत विहार थाने के इंस्पेक्टर देवेंद्र चौहान के अनुसार, शिकायतकर्ता राशि निवासी मेहूंवाला ने बताया कि उनका जीएमएस रोड पर सनसाइन स्पा के नाम से स्पा सेंटर है। उनका आरोप है कि इसी 21 अक्टूबर की शाम को जावेद मलिक और वीरेंद्र नाम के दो शख्स स्पा सेंटर में आए। जावेद ने खुद को पत्रकार और विरेंद्र ने दिल्ली पुलिस की साइबर ब्रांच का अधिकारी बताया। स्पा सेंटर में घुसते ही वह गालीगलौज करने लगे और वीडियो बनाना शुरू कर दिया। इस घटना के वक्त राशि सेंटर म

मसूरी पालिकाध्यक्ष द्वारा झूठा शपथ पत्र देने का मामला, कार्रवाई के दिए निर्देश

मसूरी (देहरादून)। पालिकाध्यक्ष अनुज गुप्ता द्वारा चुनाव के समय गैरकानूनी अभिलेख एवं झूठा शपथ पत्र प्रस्तुत करने के मामले का चुनाव आयोग ने संज्ञान लिया है. पालिकाध्यक्ष अनुज गुप्ता द्वारा चुनाव के समय गैरकानूनी अभिलेख एवं झूठा शपथ पत्र प्रस्तुत करने के मामले का चुनाव आयोग ने संज्ञान लिया है. शहरी विकास सचिव को आयोग ने तत्काल मामले की जांच कर कार्रवाई करने का निर्देश दिया है. सुनील कुमार गोयल द्वारा मसूरी नगर पालिकाध्यक्ष अनुज गुप्ता द्वारा झूठा शपथ पत्र और गैरकानूनी अभिलेखों को प्रस्तुत कर चुनाव लड़ने की शिकायत राज्य निर्वाचन आयोग से की गई थी. जिसका संज्ञान लेते हुए राज्य निर्वाचन आयोग उत्तराखंड सचिव हिमानी जोशी पेटवाल ने शहरी विकास सचिव को जांच करने का आदेश दिया है. सुनील कुमार गोयल द्वारा 19 जनवरी को उत्तराखंड राज्य निर्वाचन आयोग उत्तराखंड को प्रमाण के साथ पालिका अध्यक्ष अनुज गुप्ता द्वारा 2018 में गैरकानूनी अभिलेख एवं झूठा शपथ पत्र प्रस्तुत कर चुनाव लड़ने की शिकायत की गई थी. जिसका संज्ञान चुनाव आयोग ने लेते हुए कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं. News Source - https://react.etvbharat.com/hindi/uttarakhand/state/dehradun/ec-directed-to-take-action-on-mussoorie-municipality-president-in-case-of-giving-false-affidavit/uttarakhand20210208221240010

टिप्पणियाँ

Popular Post