सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

पूर्व मुख्‍यमंत्री त्रिवेंद सिंह रावत नहीं लड़ेंगे चुनाव

 देहरादून : बहुत बड़ी खबर निकल कर सामने आ रही है कि उत्‍तराखंड के पूर्व मुख्‍यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत इस बार विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे। जानकारी के मुताबिक उन्‍होंने भाजपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष जेपी नड्डा को पत्र लिखकर यह इच्‍छा जाहिर की है। उन्‍होंने कहा कि धामी के नेतृत्‍व में भाजपा की सरकार बनाने के लिए काम करना चाहता हूं।  जेपी नडडा को लिखे पत्र में उन्‍होंने मुख्‍यमंत्री के रूप में कार्य करने का अवसर देने के लिए आभार भी व्‍य‍क्‍त किया है। साथ ही ये भी कहा है कि प्रदेश में युवा नेतृत्‍व वाली सरकार अच्‍छा काम कर रही है। उन्‍होंने कहा, बदली हुई राजनीतिक परिस्थितियों में मुझे चुनाव नहीं लड़ना चाहिए। इसलिए मेरा अनुरोध स्‍वीकार कर लिया जाए। आपको बता दें कि त्रिवेंद्र सिंह रावत ने पत्र में लिखा कि मान्‍यवार पार्टी ने मुझे देवभूमि उत्‍तराखंड के मुख्‍यमंत्री के रूप में सेवा करने का अवसर दिया यह मेरा परम सौभाग्‍य था। मैंने भी कोशिश की कि पवित्रता के साथ राज्‍य वासियों की एकभाव से सेवा करुं व पार्टी के संतुलित विकास की अवधारणा को पुष्‍ट करूं। प्रधानमंत्री जी का भरपूर सहयोग व आशीर्वाद मु

भारत के सूचना और प्रसारण मंत्रालय का ट्विटर अकाउंट हैक




बीते कुछ अर्से से हैकरों के हौंसले कुछ ज्यादा ही बुलंद हो गये हैं।आपको बता दें हैकरों ने सरकार के कई सोशल मीडिया अकाउंट से छेड़छाड करी हैं। अब भारत के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय का ट्विटर अकाउंट आज सुबह किसी अज्ञात ने हैक कर लिया है। हालांकिएमंत्रालय ने कुछ समय बाद ट्विटर अकाउंट को फिर से अपने कंट्रोल में वापस ले लिया लेकिन कुछ ही मिनटों में हैकर्स ने कई तरह के ट्वीट किए और खाते का नाम भी बदल दिया। 


बुधवार यानि आज  12 जनवरी को सूचना और प्रसारण मंत्रालय के ट्विटर अकाउंट से छेड़छाड़ की गई। इतना ही नहीं हैकर्स ने अकाउंट का नाम भी बदलकर ‘एलोन मस्क’ कर दिया और ‘ग्रेट जॉब’ ट्वीट करने लगे। हालाँकि, मंत्रालय ने कुछ समय में खाते पर नियंत्रण हासिल कर लिया गया प्रोफ़ाइल को भी बदल दिया और हैकर्स द्वारा पोस्ट किए गए ट्वीट्स को हटा दिया। हैकर्स ने इसके कुछ दुर्भावनापूर्ण लिंक भी पोस्ट किए थे।



गौरतलब है कि ठीक एक महीने पहले यानि 12 दिसंबरए 2021 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का निजी ट्विटर हैंडल कुछ देर के लिए हैक कर लिया गया था। हालांकि कुछ ही समय बाद खाते को बहाल कर दिया गया था लेकिन क्रिप्टोक्यूरेंसी को बढ़ावा देने वाला एक ट्वीट पहले ही हैंडल से साझा किया जा चुका था।


वहीं 3 जनवरी को इंडियन काउंसिल ऑफ वर्ल्ड अफेयर्स ,इंडियन मेडिकल एसोसिएशनऔर मान देसी महिला बैंक,एक माइक्रोफाइनेंस बैंक के ट्विटर अकाउंट हैक कर लिए गए थे। ऐसे में भी हैकर्स ने हैंडल का नाम बदलकर ‘एलोन मस्क’ कर दिया था।


टिप्पणियाँ

Popular Post