केरल में फिर बढ़ने लगे कोरोना के केस, 8 राज्यों को केंद्र ने किया सतर्क

 

 



अप्रैल और मई की तुलना में देश में कोरोना वायरस के नए मामलों की संख्या में लगातार कमी है। एक वक्त था जब रोजाना चार लाख के आसपास नए मामले आने लगे थे। लेकिन वर्तमान में 45000 के आसपास नए मामले आ रहे हैं। इन सबके बीच केरल में लगातार नए मामलों की संख्या में वृद्धि देखी जा रही है। केरल में बुधवार को कोविड-19 के 15,600 नए मामले सामने आए हैं, जिसके बाद कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 30,11,694 हो गई। वहीं, महामारी से 148 और लोगों की मौत के बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 14,108 हो गई। राज्य सरकार ने एक विज्ञप्ति में बताया कि 11,629 मरीजों के संक्रमणमुक्त होने के बाद कुल स्वस्थ हुए लोगों की संख्या बढ़कर 28,89,186 हो गई है।दूसरी ओर केंद्र सरकार की ओर से 8 राज्यों को सतर्क किया गया है। अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर, केरल, असम, मेघालय, त्रिपुरा, सिक्किम और ओडिशा में लगातार सक्रिय मामलों में तेजी देखी जा रही है। इन सभी राज्यों को पत्र लिखकर सतर्क रहने को कहा गया है। साथ ही साथ नए मामलों को रोकने के लिए भी सलाह दी गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने ओडिशा में संक्रमण दर के 10 फ़ीसदी से ज्यादा बने रहने पर चिंता जताई है। देश में अभी तक कोविड-19 रोधी टीकों की कुल 36.48 करोड़ खुराक दी जा चुकी है। देश में पिछले साल सात अगस्त को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितम्बर को 40 लाख से अधिक हो गई थी। वहीं, संक्रमण के कुल मामले 16 सितम्बर को 50 लाख, 28 सितम्बर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख, 20 नवम्बर को 90 लाख के पार हो गए। आपको बता दें कि भारत में एक दिन में कोविड-19 के 45,892 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3,07,09,557 हो गई। वहीं, उपचाराधीन मामलों में लगातार करीब 55 दिन से गिरावट के बाद मामूली बढ़ोतरी दर्ज की गई और अब देश में 4,60,704 लोगों का कोरोना वायरस संक्रमण का इलाज चल रहा है। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से बृहस्पतिवार को सुबह आठ बजे जारी किए गए अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, देश में 817 और लोगों के ठीक होने के बाद संक्रमण मुक्त हुए लोगों की संख्या बढ़कर 4,05,028 हो गई। वहीं, अभी 4,60,704 लोगों का कोरोना वायरस संक्रमण का इलाज चल रहा है, जो कुल मामलों का 1.50 प्रतिशत है। पिछले24 घंटे में उपचाराधीन मामलों में 784 बढ़ोतरी हुई।मरीजों के ठीक होने की राष्ट्रीय दर 97.18 प्रतिशत है।