दून के परेड मैदान में हुआ मुख्य आयोजन, राज्यपाल ने किया ध्वजारोहण

  

देहरादून / देश भर में आज 71 वां गणतंत्र दिवस धूमधाम से मनाया गया। उत्तराखंड में भी सभी जोश और देशभक्ति से लबरेज रहे। गणतंत्र दिवस परेड और मुख्य समारोह दून स्थित परेड ग्राउंड में आयोजित किया गया, जहां सुबह साढ़े दस बजे राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ध्वजारोहण किया और राष्ट्रीय ध्वज को नमन करते हुए परेड की सलामी ली। इस अवसर पर सेना, आइटीबीपी, पुलिस, पीएसी, होमगार्ड, पीआरडी के जवानों ने मार्च पास्ट करते हुए राज्यपाल को सलामी दी। राज्य के लोक कलाकारों ने भी अपनी नृत्य कला का मनोहारी प्रदर्शन किया। राज्यपाल मौर्य ने उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले कर्तव्यपरायण पुलिस कर्मियों को भी सम्मानित किया।

प्रदेश में गणतंत्र दिवस पर सभी जिलों में झंडारोहण कर राष्ट्रीय ध्वज को सलामी दी गई। राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने राजभवन, मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने सीएम आवास विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद्र अग्रवाल ने ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैंण में ध्वजारोहण किया। गणतंत्र दिवस के मुख्य कार्यक्रम का का आयोजन दून स्थित परेड ग्राउंड में हुआ। इस दौरान विभिन्न सांस्कृतिक दलों ने छोलिया, गढ़वाली, कौथिक, हारूल, पौणा नृत्य और नंदादेवी राजजात से दर्शकों का मन मोह लिया।

20वीं कुमाऊं रेजीमेंट पहले स्थान पर 

परेड मैदान में आयोजित समारोह में 20 कुमाऊं रेजिमेंट, आइटीबीपी, 46पी वाहिनी पीएसी महिला, उत्तराखंड पुलिस, आइआरबी प्रथम, होमगार्ड, पीआरडी, अश्व दल, पुलिस संचार, दंगा नियंत्रण वाहन, अग्नि शमन, सीपीयू ने मार्चपास्ट में प्रतिभाग किया। मार्चपास्ट करने वाली टुकड़ियों में 20वीं कुमाऊं रेजीमेंट को प्रथम, आइटीबीपी को द्वितीय और उत्तराखंड पुलिस दस्ते को तृतीय स्थान प्राप्त हुआ।  

उत्कृष्ट सेवा के लिए पुलिस कर्मचारी-अधिकारी सम्मानित 

गणतंत्र दिवस के अवसर पर उत्कृष्ट सेवा के लिए कमल सिंह पंवार, पुलिस उपाधीक्षक, एसडीआरएफ, प्रदीप मधुकर गोडबोले, पुलिस उपाधीक्षक, अभिसूचना मुख्यालय, मुकेश त्यागी, निरीक्षक ना.पु., पुलिस मुख्यालय उत्तराखंड और रामनरेश शर्मा, उप निरीक्षक, ना.पु. जिला देहरादून को राज्यपाल उत्कृष्ट सेवा पदक प्रदान किए।

ये झांकियां रहीं आकर्षण का केंद्र 

 गणतंत्र दिवस के अवसर पर वन विभाग, एसडीआरएफ, ग्राम्य विकास और उरेडा, स्मार्ट सिटी, एमडीडीए, शिक्षा विभाग, पर्यटन, उद्यान, स्वास्थ्य और उद्योग विभाग की विभिन्न कार्यक्रमों, योजनाओं और नीतियों पर आधारित झांकियां आकर्षण का केंद्र रहीं। स्वास्थ्य और ग्राम्य विकास विभाग की झांकी को संयुक्त रूप से प्रथम, स्मार्ट सिटी को द्वितीय और शिक्षा विभाग को तृतीय स्थान प्राप्त हुआ।

समारोह में प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत, सांसद श्रीमती माला राज्यलक्ष्मी शाह, श्री नरेश बंसल, मेयर देहरादून श्री सुनील उनियाल गामा, स्थानीय विधायक श्री खजान दास, मुख्य सचिव श्री ओम प्रकाश, डी.जी.पी. श्री अशोक कुमार, राज्यपाल सचिव श्री बी.के.संत सहित पुलिस और प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी, जनप्रतिनिधि, गणमान्य अतिथि भी उपस्थित थे।

राजभवन में ध्वजारोहण

राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने राजभवन में सुबह नौ बजे ध्वजारोहण कर राष्ट्रीय ध्वज को सलामी दी। उन्होंने देश की आजादी के लिए अपना सर्वस्व न्यौछावर करने वाले आजादी के महानायकों और संविधान निर्माताओं के प्रति सम्मान और आभार व्यक्त करते हुए उन्हें भावपूर्ण श्रद्धांजलि दी। राजभवन में ध्वजारोहण के बाद अधिकारियों और कर्मचारियों में मिठाईयां वितरित की गई।

सीएम ने दी सभी को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं  

सीएम त्रिवेंद्र रावत ने मुख्यमंत्री आवास में ध्वजारोहण किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने उपस्थित अधिकारियों, कार्मिकों और पुलिस के जवानों को संविधान की प्रस्तावना की शपथ दिलाई। मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं देते हुए राज्य की सुख-समृद्धि की कामना की। स्वतंत्रता आंदोलन में अपना सर्वोच्च बलिदान देने वाले और देश की एकता व अखंडता के लिए कार्य करने वाले स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों को याद करते हुए मुख्यमंत्री ने उनको श्रद्धांजलि दी। उन्होंने कहा कि भारत एक मजबूत गणतंत्र बनकर उभरा है। आज दुनिया की नजर भारत पर है। सीएम ने कहा, भारत में वसुधैव कुटुम्बकम की सोच है। आज भारतीय अपनी पहचान के साथ दुनिया में जाता है। इसके बाद मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने भाजपा कार्यालय में ध्वजारोहण किया। इस अवसर पर राज्यसभा सांसद नरेश बंसल, सांसद माला राज्यलक्ष्मी शाह, मेयर सुनील उनियाल गामा, विधायक खजानदास आदि उपस्थित।

Sources:Agency News