बदायूं गैंगरेप केस-पुजारी ने उगले कई राज,दो महिलाओं को पुलिस ने लिया हिरासत में

 

बदायूं में गैंगरेप के बाद हत्या की दुर्दांत वारदात को अंजाम देने वाले खलनायक महंत सत्यनारायण की धरपकड़ के बाद रातभर पुलिस ने उससे पूछताछ की। इसमें उसने कई राज उगले हैं। इन्हीं के आधार पर पुलिस ने गांव की दो और महिलाओं को हिरासत में ले लिया है। उनसे भी थाने में पूछताछ चल रही है। अधिकारियों का कहना है कि देर शाम तक सारी परतें खुल जाएंगी। 

गुरुवार देर रात गांव वालों ने घेराबंदी कर महंत शब्द को कलंकित करने वाले शातिर को धर दबोचा था। इसके बाद पुलिस ने उससे रातभर विभिन्न पहलुओं पर पूछताछ की। आखिरकार वारदात की वजह क्या रही और महिला से उसके क्या संबंध थे। इन सवालों के जवाबों के दौरान उसने कई ऐसे राज भी उगले जिनके आधार पर दो और महिलायें उठाना पड़ गईं हैं।  एसएसपी संकल्प शर्मा ने बताया कि आरोपी पकड़ा जा चुका है। उससे पूछताछ जारी है। कई बिंदुओं पर पूछताछ के बाद उसे कोर्ट में पेश किया जायेगा।

तीन जनवरी की रात की घटना

बदायूं के उघैती थाना क्षेत्र तीन जनवरी की रात 50 वर्षीय आंगनबाड़ी सहायिका की गैंगरेप के बाद हत्या कर दी गई थी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में महिला के साथ निर्भया जैसी दरिंदगी का सबूत मिला था। गुप्तांग में रॉड जैसी कोई चीज डालने का मामला सामने आया था। उसकी बाईं पसली, बायां पैर और बायां फेफड़ा भी वजनदार प्रहार से क्षतिग्रस्त कर दिया गया था। महिला के प्राइवेट पार्ट में गंभीर घाव थे। काफी खून भी निकल गया था। रिपोर्ट में कोई लोहे की रॉड या सब्बल गुप्तांग में ठूंसे जाने की बात भी सामने आई। पोस्टमार्टम रिपोर्ट देख अफसर हैरत में थे। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद उघैती पुलिस ने धर्मस्थल के महंत सत्यनारायण दास, उसके सहयोगी वेदराम व यशपाल के खिलाफ दुष्कर्म और हत्या का मुकदमा दर्ज किया था। वेदराम व यशपाल को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था। फरार महंत सत्यनारायण दास पर 50 हजार का इनाम घोषित किया गया था।

Sources:Hindustan Samachar