डेढ़ करोड़ की ठगी करने वाला एक और शातिर चढ़ा पुलिस के हत्थे, तीन की पहले ही हो चुकी है गिरफ्तारी

 

 देहरादून / फर्जी रजिस्ट्रियां कर करीब डेढ़ करोड़ रुपये की ठगी करने वाले गिरोह के एक अन्य ठग को रायपुर थाना पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इस मामले में पुलिस तीन आरोपितों को पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है। रायपुर थानाध्यक्ष दिलबर सिंह नेगी ने बताया कि छरबा सहसपुर, विकासनगर निवासी इस्लाम ने तहरीर दी थी कि उन्होंने अपने साथी मनीष कुमार के साथ मिलकर मैसर्स सनसेट बिल्डवेल के नाम से एक फर्म बनाई थी। 

इसके बाद फर्म ने 15 जुलाई 2007 को मल्टीपल एसोसिएट के प्रतिनिधि मोहम्मद इरफान निवासी मोहब्बेवाला से नूरीवाला परवादून में कुछ जमीन खरीदी थी। इस जमीन को आरोपित फुरकान अहमद, महाराज सिंह बिष्ट और रितेश मिश्रा ने फर्जी फर्म बनाकर अवैध तौर पर 14 व्यक्तियों को बेच दिया। इस मामले में रायपुर थाने में 15 अप्रैल 2007 को दो व्यक्तियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था। 

एसओ ने बताया कि विवेचना में पाया गया कि फुरकान, महाराज सिंह बिष्ट ने अपने साथी रितेश मिश्रा के साथ मिलकर सनसेट बिल्डवेल के नाम से फर्जी फर्म बनाई और जमीन बेचकर डेढ़ करोड़ रुपये हड़प लिए। जांच में सामने आया कि एक अन्य आरोपित विशाल सूरी निवासी गोविंद नगर रेसकोर्स ने रितेश मिश्रा और फुरकान अली के साथ मिलकर षड़यंत्र रचकर फर्जी दस्तावेज तैयार किए। पुलिस ने आरोपित विशाल सूरी को मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया है।

 

Sources:Agency News